गुरु नानक जी के 10 उपदेश – 10 Teaching of Guru Nanak Ji

guru nanak in hindi

1. ईश्वर एक है. वह सर्वत्र विद्यमान है. हम सबका “पिता” वही है इसलिए सबके साथ प्रेम पूर्वक रहना चाहिए.


2. किसी भी तरह के लोभ को त्याग कर अपने हाथों से मेहनत कर एवं न्यायोचित तरीकों से धन का अर्जन करना चाहिए.

3. कभी भी किसी का हक नहीं छीनना चाहिए बल्कि मेहनत और ईमानदारी की कमाई में से ज़रूरतमंद को भी कुछ देना चाहिए.

4. धन को जेब तक ही सीमित रखना चाहिए. उसे अपने हृदय में स्थान नहीं बनाने देना चाहिए.

5. स्त्री-जाति का आदर करना चाहिए. वह सभी स्त्री और पुरुष को बराबर मानते थे.

6. तनाव मुक्त रहकर अपने कर्म को निरंतर करते रहना चाहिए तथा सदैव प्रसन्न भी रहना चाहिए.

7. संसार को जीतने से पहले स्वयं अपने विकारों पर विजय पाना अति आवश्यक है.

8. अहंकार मनुष्य को मनुष्य नहीं रहने देता अतः अहंकार कभी नहीं करना चाहिए बल्कि विनम्र हो सेवाभाव से जीवन गुजारना चाहिए.

9. गुरु नानक देव पूरे संसार को एक घर मानते थे जबकि संसार में रहने वाले लोगों को परिवार का हिस्सा.

10. लोगों को प्रेम, एकता, समानता, भाईचारा और आध्यत्मिक ज्योति का संदेश देना चाहिए.

  • किस बात पर गर्व करे ? – For what I should proud?किस बात पर गर्व करे ? – For what I should proud? किस बात पर गर्व करे ?? लाखों करोड़ के घोटालों पर ?  85 करोड़ भूखे गरीबों पर ? 62 प्रतिशत कुपोषित इंसानों पर ?  या क़र्ज़ से मरते किसानों पर ? किस बात पर गर्व करे ?? जवानों […]
  • मोहम्मद रफ़ी साहब – Legend of Legends – A Divine & Heavenly Voice of One & Only Rafi Sahab !मोहम्मद रफ़ी साहब – Legend of Legends – A Divine & Heavenly Voice of One & Only Rafi Sahab ! दोस्तों और मेरे आदरणीय पाठकों, रफ़ी साहब के बारे में मेरा कुछ भी कहना सूर्य को दीपक दिखने के समान है, मैं तो अपने हिंदी ब्लॉग अपनी कहानी के माध्यम से यही कहना चाहूँगा की " […]
  • भगवान का स्मरण प्रेरक प्रसंग – God’s remembrance Motivational Storyभगवान का स्मरण प्रेरक प्रसंग – God’s remembrance Motivational Story दोस्तों और मेरे आदरणीय पाठकों, एक बार संत कबीर से किसी ने पूछा, 'आप दिन भर कपड़ा बुनते रहते हैं तो भगवान का स्मरण कब करते हैं?' कबीर उस व्यक्ति को लेकर अपनी झोपड़ी से बाहर आ गए। बोले, […]
Share this:

Leave a Comment