पिता का सच्चा प्यार – Heart Touching Short Hindi Story

Share this:
पिता का सच्चा प्यार

दोस्तों, एक दिन एक 11 साल की लड़की ने अपने पिता से पुछा, “आप मेरे 15 वे जन्मदिन पर मुझे क्या देने वाले हो?

उस लड़की के पिता ने जवाब दिया, “बेटी, अभी तो बहुत समय बाकी है.”

जब वह लड़की 14 साल की हुई तब वह अचानक से एक दिन बेहोश हो गयी और जल्द ही उसे अस्पताल में भर्ती किया गया।

तभी डॉक्टर आये और उन्होंने बताया की उस लड़की के ह्रदय में खराबी है और वह जल्द ही मरने वाली है।

जब वह लड़की अस्पताल में पलंग पर लेटी हुई थी तभी उसने अपने पिता से कहा की, “डैडी, क्या डॉक्टर ने आपको बताया की मै मरने वाली हु?”  पिता ने रोते हुए कहा की – नहीं तुम जीने वाली हो।

लड़की ने कहा, “आपको ये कैसे पता की मैं जीने वाली हूँ?”

तभी पिता ने दरवाजे से मुह मोडते हुए कहा, “मुझे पता है.”

जब उसकी तबियत ठीक होने लगी थी तब वह 15 साल की होने वाली थी. और एक दिन वह ठीक हो गयी और अपने घर वापिस आ गयी जहा पलंग पर उसे एक पत्र मिला. जिसमे लिखा था, “मेरी प्यारी बेटी, जब तुम ये पढ़ रही होगी, तब अस्पताल में मैंने तुम्हे जो कहा था वह सच हो चूका होगा”

एक दिन तुम्हे मुझसे पूछा था की तुम्हारे 15 वे जन्मदिन पर मै तुम्हे क्या दूंगा?

तब मुझे कुछ पता नहीं था लेकिन अभी तुम्हारे लिए मेरा उपहार “मेरा दिल” है।

दोस्तों, उसके पिता ने अपने बेटी की जान के लिए अपना दिल दान किया था.

सीख-

हमेशा अपने माता-पिता से प्यार कीजिये, क्यों की हमारी ख़ुशी के लिए वे कई चीजों का त्याग करते है। जिसका हमें पता भी नहीं होता है, बहुत से समय हम जीवन में अपने आप को बड़ा बनाने में व्यस्त होते है और जिन्होंने हमें बड़ा किया उन्हें ही भूल जाते है, चाहे हम कितने की व्यस्त क्यू ना हो, अपना थोडा समय भी उनके साथ बिताये और उन्हें ये बताये के आप भी उनसे उतना ही प्यार करते है जितना वे आपसे करते थे। उन्हें आपके जीवन में उनका महत्व बताइए, उनकी सेवा कीजिये और उन्हें कभी दुःख मत दीजिये।

“अपने परिवार की खुशियों के लिए अपने जीवन को भी कुर्बान करने वाले को ही, पिता कहते है” वे अपने जीवन में अपने सुखो का त्याग कर के अपने परिवार की जरूरतों को पूरा करते है।

Share this:

Leave a Reply