चाणक्य नीति हिंदी में – Chanakya Neeti In Hindi

Share this:
Chanakya Neeti

दोस्तों, चाणक्य का नाम कौन नही जानता। चाणक्य का नाम सुनते ही लोगो के मन में एक तीव्र बुद्धि के इंसान की छवि अपने आप  ही बन जाती है। चाणक्य वो नाम है जिसने एक साधारण से बालक को मौर्य साम्राज्य का सम्राट बना दिया था। चाणक्य सिर्फ एक कुशल राजनीतिज्ञ ही नही बल्कि एक अच्छे कूटनीतिज्ञ और प्रखण्ड अर्थशास्त्री भी थे। उनकी ही नीतियों पर मौर्य साम्राज्य खूब फला फूला। चाणक्य द्वारा लिखी हुई नीतियाँ और सूक्तियाँ आज भी लोगो को प्रेरित करती है। उनकी लिखी हुई नीतियाँ आज भी लोगो के जीवन स्तर को ऊँचा बढ़ा रही है। आज हम आपको चाणक्य द्वारा बताई हुई ऐसी दस नीतियों के बारे में बता रहे हैं जिसे हर इंसान को अपने जीवन में अपनानी चाहिए :-
1. किसी भी व्यक्ति को बहुत सीधा नही होना चाहिए क्युकी सीधे वृक्ष ही पहले काटे जाते है।

2. यदि कोई सर्प ज़हरीला न भी हो तब भी उसे ज़हरीला दिखना चाहिए ताकि उसके शत्रुओ के ये भ्रम हमेशा रहे की वो डाँस भी सकता है।

3.  कोई भी कार्य शुरू करने से पहले अपने आप से तीन प्रशन जरूर करे – मैं ये क्यों कर रहा हू, इसके क्या परिणाम होंगे और क्या मैं सफल हूँगा।

4. हमे भूत के बारे में पछतावा नही करना चाहिए और ना ही भविष्य के बारे में चिंतित होना चाहिए विवेकवान व्यक्ति केवल वर्तमान में जीते है।

5. कभी भी अपने राज़ दुसरो को ना बताए ये आपको बर्बाद कर सकते है।

6. ऐसे लोग जो आपके स्तर से ऊपर या नीचे है उन से मित्रता कभी नही करनी चाहिए ऐसे लोग कष्ट का कारण बन सकते है, मित्रता हमेशा समान व्यक्तियों से करे।

7. हमेशा दूसरो की गलतियों से सीखो अपनी गलतियों से सीखने में तुम्हारी उम्र कम पड़ जाएगी।

8. जरूरत पड़ने पर साम, दाम, दण्ड, भेद इन चारो का प्रयोग करो परन्तु विजय तुम्हारी ही होनी चाहिए।

9. राजा अपने आस पास अच्छे कुल के लोगो को ही रखते है क्योकि ऐसे लोग ना आरम्भ में ना बीच में और ना ही अंत में साथ छोड़ते है।

10. असंभव शब्द का इस्तेमाल बुज़दिल करते है। बहादुर और बुद्धिमान व्यक्ति अपना रास्ता खुद तैयार करते है।

Share this:

Leave a Reply