एंटी मैटर क्या होता है – What is Anti Matter

Share this:
Matter and Anti matter

दोस्तों, ज्यादातर इस Universe में सबकुछ पदार्थ यानी की Matter से बना हैं. आप, मैं, पृथ्वी, वायु, तारे, Interstellar, धुल – सभी पदार्थ. हम जानते हैं की यह सभी पदार्थ Electrons और Quarks से बने हैं. कुछ पदार्थ Muons, tauons, और Neutrino जैसे दुर्लभ कणों से बने होते हैं. यह सब कण उनके बुनियादी स्तर पर होते हैं।
लेकिन यहाँ पर भी एक कहावत हैं, “हर Particle के लिए, उसके जैसा लेकिन उससे पूरी तरह से विपरीत एक Anti-Particle होता है. इन Anti-Particles में एक सामान्य Particle जैसी सभी features होती है. लेकिन यह features उनसे पूरी तरह से Opposite Charge वाली होती है. जब ये Particles और उनके Anti-Particles एक दूसरे के संपर्क में आते हैं तब एक दूसरे को नष्ट कर देते हैं. यूँ समझ लीजिए की यह दोनों particles एक दूसरे की mirror image हैं. आपके पूरे शरीर का भी एक पूरी तरह से विरोधी Anti Matter का शरीर कहीं पर मौजूद हो सकता हैं. उस शरीर के लिए आपकी यह body एक Anti Matter होंगी।

समीकरण x^2 = 4 के दो परिणाम हैं : 2 और -2, एक ही मूल्य है, लेकिन opposite symptoms के साथ.
जब ये दोनों एक दूसरे से मिलते हैं तो, एक दूसरे का पूरी तरह से सफाया कर देते हैं. जब एक दूसरे से विपरीत गुणों वाली दो चीज़े टकराती हैं तो उनकी value zero हो जाती हैं, मतलब खात्मा।

हर मौलिक कण का एक Anti particle होता है : Anti-Quark, Anti-Neutrino, Anti-Muon और Anti-Electron. जिन्हें Positrons भी कहा जाता है।

यह Anti-Particles खुद से opposite गुणवाले पदार्थ के अलावा अन्य पदार्थ के लिए अनिवार्य रूप से समान है. वो Anti-Particle होने के बावजूद अन्य Article को नष्ट नहीं कर सकता हैं. वह केवल उसके समान लेकिन opposite quality particles को ही नष्ट कर सकता हैं. वह अन्य कणों के साथ अनिवार्य रूप से समान तरीके में alliance कर सकता हैं।

Big Bang के बाद Anti-Matter के द्वारा Universe में मौजूद सारे Matter का खात्मा हो जाना चाहिए

सिद्धांत के अनुसार, Big Bang के वक़्त बिलकुल बराबर मात्रा में Matter और Anti-Matter बना होना चाहिए. जब Matter और Anti-Matter मिलते हैं, वे एक दूसरे का सफाया करते है, इसके बाद कुछ भी नहीं बचेगा, केवल Energy के, तो इस सिद्धांत के अनुसार, हम में से कोई भी मौजूद होना चाहिए.

लेकिन हम जिन्दा है. क्योंकि  Physics Scientists के अनुसार अंत में हर अरबों Matter-Anti-Matter के जोड़ो में से एक अतिरिक्त Matter का particle उस खात्मे के दौरान बचने में कामयाब रहा था. Physicists इस विषमता को समझने के लिए अभी भी काफी कोशिश कर रहे हैं.

उनके मुताबिक शायद बचे हुए Matter और Anti-Matter, Big Bang के वक़्त से लेकर अब तक एक दूसरे के संपर्क में आए ही न हो. शायद वह Anti-Matter अब तक कहीं छुपकर बैठा हो. लेकिन हमारे लिए तो यह एक अच्छी बात ही हैं, क्योंकि अगर वे दोनों मिल गए तो हमारे ब्रह्माण्ड का विनाश हो जाएगा.

लेकिन, एक मिनट रुकिए – – –

सिद्धांत के अनुसार, Big Bang के वक़्त सबकुछ नष्ट हो जाने के के बाद Energy उर्जा बचनी चाहिए. तो क्या universe में मौजूद सभी चीजों के लिए वह बची energy काफी नहीं हैं. वैसे भी कहा जाता हैं की universe में मौजूद सब कुछ केवल energy हैं, तो फिर हम सभी और यह ब्रह्माण्ड उस random energy का नतीजा क्यों नहीं हो सकते?

साभार – http://universeinhindi.blogspot.in/

Share this:

Comments(2)

  1. August 31, 2017
  2. October 21, 2017

Leave a Reply to patel nainesh Cancel reply