क्या एलियंस सच में हैं – Are Aliens Real

Share this:
Are Aliens Real

दोस्तों, 94 अरब प्रकाश वर्ष में फैला हुआ ये विशालकाय universe, जिसमे अरबो खरबो galaxies समाहित है। उन खरबो galaxies में से एक छोटी सी galaxy –  Milky Way

Milky Way जो 400 अरब जगमगाते तारो का घर है, उस Milky Way के केंद्र से 27000 प्रकाश वर्ष दूर Orion Arm पर मौजूद एक मामूली से तारे “सूर्य” से 15 करोड़ किलोमीटर दूर तैर रहे एक चट्टान के टुकड़े “पृथ्वी” के एक देश भारत के राज्य दिल्ली के एक छोटे से मोहल्ले में बैठा एक इंसान ये पोस्ट लिख कर आप तक पहुचा रहा है और पोस्ट लिखते वक़्त आसमान में टिमटिमाते इन तारो को देख उस इंसान के दिमाग में एक सवाल अक्सर आता है – Are We Alone?

94 अरब प्रकाश वर्ष तक दिखने वाला ये universe सिर्फ सजावट के लिए तो नहीं हो सकता? क्या हम जैसे कोई दूसरे भी है? जो इस galaxy के किसी और कोने में रहते, खाते, पीते हो?

हमारी गैलेक्सी Milky Way वे में करोडो ऐसे planets है जो कार्बन आधारित जीवन की मूलभूत आवश्यकताए पूरी करते है जिनमे से कुछ planets को हमने detect भी किया है। हमारे आस पास 20 प्रकाश वर्ष के घेरे में ही तकरीबन 80 से ज्यादा life supporting starsहै जिनमे सबसे नजदीक “Proxima Century” है जो मात्र 4.3 प्रकाश वर्ष दूर है।

Getting There? Piece Of Cake, Difficult Piece Of Cake!

Think It This Way – एक fastest bullet एक सेकंड में लगभग 1.5 KM का सफ़र तय करती है। हमारी पृथ्वी सूर्य के चारो ओर 30 KM प्रति सेकंड की गति से चक्कर लगाती है। वर्तमान में Fastest Man Made Object “हेलियोस-2” एक सेकंड में अद्धुत रूप से 70 KM का सफ़र तय कर सकता है, इस speed पे भी, Even At This Fastest Speed पृथ्वी से निकल के सिर्फ 4.3 प्रकाश वर्ष दूर मौजूद सबसे नजदीक तारे तक पहुचने में 19000 साल लग जायेगे !

एक light year एक incredible distance है जिसको तय करना एक दुःस्वप्न ही है। light एक सेकण्ड में इस पृथ्वी के चक्कर लगा सकती है 7 बार !!! पर निराश होने की जरुरत नहीं, समय के साथ शायद technology better हो और “Worm-hole” जैसे चीजे theoretically हमें universe में एक जगह से दूसरी जगह प्रकाश से भी तेज पहुचने की सम्भावनाये प्रदान करती है।

interstellar travel में किसी स्थान तक पहुचने के लिए लगने वाले समय की prediction-  WAIT CALCULATION कहलाती है और हमारी current technology तथा तरक्की की दर की mathematical probability बताती है कि हमसे 6 प्रकाश वर्ष दूर मौजूद “bernard star'” तक पहुचने में मानवो को लगभग 1104 वर्षो का समय लगेगा।

Not Within Any Of Our Lifetime !!!
 
और ये estimated है कि सिर्फ 50 लाख से 5 करोड़ वर्षो के अंदर technically मानव सम्पूर्ण milky way पर अपनी बस्तिया स्थापित कर चुके होंगे But You Never Know सिर्फ 5 लाख सालो के अंदर इस बात की भी 100% प्रतिशत संभावना है कि पृथ्वी पर कोई ऐसा उल्कापात (The Falling Of A Meteor) भी जरूर होगा जिसने समय के किसी हिस्से में पृथ्वी पर घूम रहे dinosaur को इतिहास का हिस्सा बना दिया था !!!

Time Is Uncertain, but Don’t Worry – दूसरे planets पे जाने के लिए शायद हमें रुकना पड़े लेकिन “Telescopes” जैसी चीजो की सहायता से बेशक हम यही पृथ्वी पर बैठे बैठे universe में लाखो प्रकाश वर्ष दूर मौजूद stars, galaxies को देख सकते है तो क्या कभी ऐसा हो सकता है कि हम किसी planet पर अपने telescope focus करे और हमें उस ग्रह पर मौजूद aliens की pool party चलती हुई दिखाई दे? Well, Its Disappointing ! हमारे telescope इतने शक्तिशाली नहीं है, far remote objects की हम सिर्फ Blurred Image (धुंधली तस्वीर) ही देख सकते हैं।
 
Think It This Way – अगर हमारे पास 260 मीटर diameter का कोई telescope होता तो हम Neil Armstrong द्वारा चाँद की सतह पर छोड़ दिए गए American flag जो आज भी चाँद की सतह पर मौजूद है देख सकते थे और अगर हमारे पास एक 6250 मीटर चौड़ा telescope होता तो हम यही पृथ्वी पर बैठे बैठे ही झंडे की धारिया तक देख सकते थे।
 
But, हमारे पास मौजूद बेहतरीन telescope का साइज़ भी मात्र 10 मीटर है और भविष्य में प्रस्तावित, 2022 में तैयार होने वाले विश्व के सबसे बड़े telescope का साइज़ भी 39 मीटर ही होगा।

Milky way के दूसरे कोने में मौजूद planets की जमीन पर मौजूद aliens की हरकते देखने के लिए आपको करोडो KM चौड़ा telescope चाहिए होता जो practical नहीं है !
 
पर एक चीज ऐसी है जो aliens तक आपके सन्देश पहुचाने में कारगर हो सकती है- “Radio Signals”
 
सन् 1974 में famous astronomer –  Carl Sagan और उनकी टीम ने कुछ जानकारियो जैसे universe में पृथ्वी की location map, हमारे DNA,Science और Math के कुछ basic riles; Radio Signals के रूप में 25000 प्रकाश वर्ष दूर मौजूद एक star cluster की तरफ भेजे थे इस उम्मीद के साथ कि अगर वहा कोई alien advanced civilization है तो शायद उनके antenna हमारे signals को पकड़ पाये और signals को decode कर वे जान पाएं कि वे universe में अकेले नहीं है and You know 100 से ऊपर वर्षो से हम communication के लिए Radio Signal का इस्तेमाल कर रहे है। “Under Right Conditions” वे Radio Signal स्पेस में leak कर सकते है और ऐसा हुआ भी है तो हमारे Radio Signal, already space में लगभग 100 प्रकाश वर्ष की दूरी तय कर चुके होंगे। किसे पता शायद aliens पहले से ही अपने antenna पृथ्वी की तरफ घुमा के हमारे “सास बहु के सीरियल” देखने का लुत्फ़ उठा रहे हो?

बहरहाल, अगर ऐसा संभव है तो हमें आज तक ऐसे कोई signal क्यों नहीं मिले? Or May Be To Say
अगर intergalactic travel इतना आसान है तो अभी तक हमें किसी ने visit क्यों नहीं किया?

Why Night Sky Seems So Silent? 14 अरब वर्ष पहले अस्तित्व में आये universe में आज तक ऐसी कोई सभ्यता नहीं हुई जो intergalactic travel के लिए सक्षम हो?

Well May Be, universe में type-0 civilization ही व्यापक हो क्योंकि जब मानव उन्नति के पायदान पे एक कदम आगे बढ़ता है तो आत्महत्या का सामान भी खुद ही तैयार करता है। शायद आज से हजारो वर्ष के बाद intergalactic travel के लिए सक्षम हो सकने के बाद universe की गहराइयो में किसी alien civilization  की खोज करते हुए हम किसी ऐसे planet पर land करें जहाँ वातावरण में हमें radiation की मोटी परत मिले जो किसी ऐसी सभ्यता के अवशेषो के बारे में हमें बता सके जो सभ्यता नियति के क्रूर पंजो में आपस में ही लड़ मर के atomic war की भेंट चढ़ गई।

Or May Be एलियंस है ही नहीं Or May Be एलियंस है; हमें देखते भी है लेकिन हमें बात करने और मिलने लायक नहीं समझते।

Well, पॉइंट एक और दो का कुछ नहीं किया जा सकता लेकिन पॉइंट 3?

तो क्यों ना आज से अपनी जिंदगी कुछ शानदार तरीके से जी जाए ताकि अरबो किलोमीटर का सफ़र तय कर हमसे जाम टकराना… किसी के लिए घाटे का सौदा ना हो !

साभार – श्री विजय सिंह ठकुराय के फेसबुक वाल से

Share this:

Leave a Reply