गलतियों से सीखें, निराश न होएं – Learn From Mistakes

Share this:
दोस्तों और मेरे आदरणीय पाठकों, नमस्कार। 

दोस्तों, हममें से ज्यादातर लोग गलतियाँ करते हैं इसका मतलब यह कदापि नहीं होता कि गलती करने के बाद आपका सबकुछ ख़तम. यदि आपने गलती की है तो खुद को दोष न दें. अपनाप को संभालें. अपने आत्मविश्वास को बनाये रखें. यदि आप अपने dream को chase कर रहें है और उस क्रम में आपसे कोई mistake हो गया इसके यह कतई अर्थ नहीं कि आप अपने मंजिल को नहीं पा सकते. ऐसी स्थिति में भावुक न होकर अपने नुकसान को कैसे कम किया जा सकता है, इसके बारे में सोचना चाहिए.लोगों कि बातों पर ध्यान न देते हुए गलती के परिणाम और प्रभाव के बारे में सोचना चाहिए और आगे कि रणनीति बनानी चाहिए.

यह सच है कि अमुक काम करते हुए आपने गलती की, लें क्या इस गलती से आपको कुछ सीख मिली. गलती से यह तो मालूम हुआ कि किन चीजों पर ज्यादा focus करना चाहिए और कहाँ कहाँ ध्यान concentrate करना चाहिए और कहाँ नहीं. गलती से हमें काम शुरू करने से पहले तैयारियों पर गौर करने, उस काम से सम्बंधित तमाम पहलुओ पर सोचने आदि के बारे में महत्त्वपूर्ण सीख मिलती है.
ध्यान रखें गलतियाँ वही करते हैं जो काम करते हैं और कुछ नया करने की कोशिश करते हैं, इसलिए स्वयं को दोष देना बंद करें और अपना काम करते रहें.

अपने जीवन में मिली सफलताओं के बारे में सोचें. यह आपको आगे बढ़ाने में सहायक होगा.याद रखें कि आज आप जहाँ भी हैं अपनी गलतियों की वजह से ही हैं, आपने जो कुछ भी सीखा है अपनी गलतियों से ही तो सीखा है. आप यह सोचें कि जब आपको सफलता मिली तो आपको कैसा अहसास हुआ उसे याद करें इससे आपका खोया हुआ confidence वापस आ जायेगा. 

इन्सान गलतियाँ दो कारणों से करता है – अनुभव की कमी और योग्यता. नयी चीजें सीखें. किसी भी काम को पूरी तैयारी और लगन से करें. खुद को योग्य बनाये और खूब अभ्यास करें, सफलता जरुर मिलेगी. गलती करना गलत बात नहीं, गलती से सबक नहीं लेना गलत है.

साभार : एक facebook मित्र

मित्रों, अपने बहुमूल्य विचार हमें नीचे Comment के माध्यम से दें! धन्यवाद्! हमारे अन्य हजारों पाठकों की तरह, आप भी हमारे Free Email Newsletter का Subscription ले सकते हैं! यदि आप हमारे ब्लॉग पर दिए हुए जानकारी से संतुष्ट हैं तो आप हमें Facebook पर Like कर सकते हैं और Twitter पर Follow भी कर सकते हैं!

Share this:

One Response

  1. August 19, 2014

Leave a Reply to Rashmi Pathak Cancel reply