ऑफिस में क्या न करें – Must Avoid these in Office

Share this:
apnikahaani.blogspot.comदोस्तों, और मेरे आदरणीय पाठकों! Today we will talk about a few things which should be avoided in the office. Generally हम देखते हैं कि कुछ लोग अपनी नौकरी बार बार बदलते रहते हैं. इसके कई reason हो सकते हैं, लेकिन इन सबके पीछे एक सबसे बड़ा reason यह भी हो सकता है कि वह व्यक्ति ऑफिस के environment को adopt नहीं कर पाता है. यहाँ कुछ बातों का जिक्र किया जा रहा है. हो सकता है कि इनमें से कुछ point आपके काम आ जाए. 

1. जोर से बातें मत करें :– जब आप फ़ोन पर किसी से भी बात कर रहे हों, अपनी आवाज के टोन को ज्यादा मत रखें. इससे न सिर्फ आपके सहकर्मी जो आपके इर्द गिर्द काम कर रहे होते हैं अपितु उनके मन में आपकी छवि एक अच्छे सहकर्मी की तो कतई नहीं बनती है. अतः आप जब भी ऑफिस में inter office या आउटसाइड ऑफिस किसी से भी phone /mobile पर बात करें अपनी आवाज़ को moderate रखें ताकि आपके आस पास काम कर रहे आपके ही colleague को कोई परेशानी न हो.

2. कभी भी ऑफिस में Best Friend की खोज न करें : व्यावसायिक और व्यक्तिगत संबंध दो अलग बातें होती हैं, in दोनों को अलग रखने में ही भलाई है. अपने ऑफिस में सबसे अच्छा दोस्त बनाने या खोजने की चाह न रखें. इससे आपको असुविधा हो सकती है.

3. कभी भी अपने बॉस का पालतू मत बनें : प्रत्येक ऑफिस में हर ऑफिस member अपने बॉस का पसंदीदा बनना चाहता है. लेकिन इससे अन्य सहकर्मियों जो सन्देश जाता है आप उसके बारे में सोचकर देखो. कभी कभी इसकी वजह से आपके सहकर्मियों में गलत सन्देश जाता है. याद करके देखिये कि कैसे स्कूल में शिक्षक के पालतू बच्चों से आपको नफरत होती थी?

4. किसी के कंप्यूटर में ताक झाँक न करें : यह संभवतः एक सहकर्मी की सबसे कष्टप्रद और बुरी आदतों में एक आदत हो सकती है, लेकिन दुख की बात यह है कि अधिकांश लोग इसे जानते हुए भी ऐसा करते हैं. अपने सहयोगी के कंप्यूटर में ताक झांक करना, वह क्या email लिख रहा है, Internet पर कौन सी साईट देख रहा है, गेम तो नहीं खेल रहा, Facebook पर किससे chat कर रहा है, आदि – इन सब चीजों के बारे में जानने की कोशिश करने का अर्थ है कि आप दूसरे लोगों के व्यक्तिगत जीवन के प्रति कोई सम्मान का भाव नहीं रखते हो. आप उसके right to privacy को भंग करना चाहते हो. लेकिन जब कोई दूसरा व्यक्ति ऐसा ही आपके साथ करता है, तो ये बातें आपको नागवार गुजरती है.

5. सैलरी पर कोई चर्चा न करें : कोई भी अपनी सैलरी पर बात नहीं करना चाहता चाहे उसकी सैलरी कम हो या ज्यादा. इसलिए अपनी सैलरी किसी को बताना या किसी और की सैलरी के बारे में जानने की कोशिश करना या उसपर चर्चा करना बिलकुल avoid करें. साथ ही finance पर बात करने या कोई टिप्पणी देने से भी बचें. चूँकि यह आपका business नहीं है, तो इससे दूर रहने में ही भलाई है.

साभार : एक Facebook मित्र

मित्रों, अपने बहुमूल्य विचार हमें नीचे Comment के माध्यम से दें! धन्यवाद्! हमारे अन्य हजारों पाठकों की तरह, आप भी हमारे Free Email Newsletter का Subscription ले सकते हैं! यदि आप हमारे ब्लॉग पर दिए हुए जानकारी से संतुष्ट हैं तो आप हमें Facebook पर Like कर सकते हैं और Twitter पर Follow भी कर सकते हैं!

Share this:

Leave a Reply