नरेन्द्र मोदी के अनमोल विचार – Narendra Modi Hindi Quotes

Share this:
narendra modi hindi

1. हम किसी व्यक्ति की सनक के हिसाब से सरकार नहीं चलाते , हमारा विकास सुधारों द्वारा संचालित है , हमारे सुधार नीति द्वारा संचालित हैं और हमारी नीतियां लोगों द्वारा संचालित हैं


2. मेरे लिए पूरा गुजरात ही एस ई जेड (SEZ) है – S – स्पिरिचुऐलिटी (Spirituality), E – एंटरप्राइज (Enterprise)  एंड (and)  Z – जील (Zeal)


3. आईटी + आईटी  = आईटी (IT+IT=IT) , इंडियन  टैलेंट  + इनफार्मेशन  टेक्नोलॉजी  = इंडिया  टुमारो (Indian Talent+Information Technology = India Tomorrow)


4. मेरे लिए राजनीति महत्वाकांक्षा नहीं है, बल्कि एक मिशन (Mission) है


5. मैं 07-10-2001 को C.M. नहीं बना . मैं हमेशा से C.M. था , मैं आज C.M. हूँ और हमेशा C.M. रहूँगा, क्योंकि मेरे लिए C.M. का मतलब चीफ मिनिस्टर (Chief Minister) नहीं बल्कि कॉमन मैन (Common Man) है


6. इच्छा + स्थिरता = संकल्प और संकल्प + कड़ी मेहनत = सफलता


7. समाज की सेवा करने का अवसर हमें अपना ऋण चुकाने का मौका देता है 


8. कड़ी मेहनत कभी थकान नहीं लाती, वह तो संतोष लाती है


9. हममें से हर किसी के अन्दर अच्छे और बुरे दोनों गुण होते हैं . जो अच्छों पर ध्यान केन्द्रित करने का निर्णय लेते हैं वो ही जीवन में सफल होते हैं


10. काम करने का कोई अवसर मिलना मेरे लिए सौभाग्य की बात है. मैं उसमे अपनी आत्मा डाल देता हूँ . ऐसा हर एक अवसर अगले अवसर का द्वार खोल देता है


11. दीपक की लौ के समान, ऊपर उठना हममें से हर एक की स्वाभाविक इच्छा है, चलिए इस इच्छा का सम्मान करें


12. हमारा लक्ष्य भारत के विकास के लिए गुजरात का विकास है


13. केवल वो जो निरंतर चलते रहते हैं , बदले में मीठा फल पाते हैं, सूरज की अटलता को तो देखो – गतिशील और लगातार चलने वाला, कभी ठहरने वाला नहीं, इसलिए बढ़ते रहो


14. मेरे जीवन में मिशन (Mission) सब कुछ है . एम्बिशन (Ambition) कुछ भी नहीं, यदि मैं नगर निगम (Municipality) का भी अध्यक्ष होता तो भी उतनी ही मेहनत से काम करता जितना C.M. होते हुए करता हूँ


15. केंद्र सरकार की आतंकवाद (Terrorism) से निपटने की कोई इच्छा नहीं है. यह समय की माँगा है कि आतंकवाद (Terrorism) के खिलाफ सख्त कारवाई की जाए, जैसा की अमेरिका (USA) ने 9/11 के बाद किया और तब से आतंकवादी (Terrorist) उस देश की तरफ देखने की हिम्मत नहीं कर पाए


16. मैं केंद्र की सरकार को चेतावनी देना चाहता हूँ कि कश्मीर का मुद्दा बहुत संवेदनशील (Sensitive) है और उन्हें किसी भी निष्कर्ष पर पहुँचने से पहले देश की जनता को विश्वास में लेना होगा


17. गुजरात ने हमेश देश को एक नया रास्ता दिखाया  है. महात्मा गांधी और सरदार पटेल ने आजादी के लिए देश का नेतृत्व किया और अब गुजरात कृषि, शिक्षा, और पेट्रो रसायन जैसे कई क्षेत्रों में देश में अग्रणी है


18. गुजरात संभवतः एकमात्र ऐसा राज्य है जहाँ आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी सम्मानित किया जाता है


19. पश्चिम में लोगों ने भारतीयों के प्रति एक गलत धारणा बना राखी है क्योंकि हम पेड़ों की पूजा करते हैं. हम पेड़ों को देवी-देवता का नाम देते हैं और फिर भी उन्हें काट देते हैं. इसी तरह, हिन्दू देवता किसी न किसी जानवर, पक्षी या पेड़ से सम्बंधित होते हैं. ये हमें उनका सम्मान करना सीखाता है


20. जब कोई और खिलाड़ी (Player) कम रन बना कर आउट होता है तो लोग दुखी नहीं होते , लेकिन सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) अगर 90 रन पर भी आउट होता है तो उसकी आलोचना होती है क्योंकि लोग उसका आंकलन एक अलग स्तर पर करते हैं. मैं खुश हूँ कि मुझे भी उम्मीदों के पैमाने पर आँका गया है, न कि यश-अपयश के पैमाने पर


21. राजनीति में कोई पूर्ण विराम (Full Stop) नहीं होता


22. लोकतंत्र में, जनमत हमेशा निर्णायक होता है और हम सभी को विनम्रता के साथ इसे स्वीकार करना होगा


23. पकिस्तान में सिखों पर  अत्याचार किया जा रहा है . उन्हें जज़िया( गैर–मुसलमानों की रक्षा के लिए देने वाला कर यानि Tax) देने के लिए कहा जा रहा है , उन्हें पांच करोड़ रूपये देने के लिए कहा जा रहा है. मैं हमारे प्रधानमंत्री से पूछना चाहता हूँ कि उन्होंने अब तक इसके लिए क्या किया है?


24. जब हम कहते हैं कि हमारे प्रधानमंत्री कमजोर हैं, तब हम उसकी शारीरिक योग्यता के बारे में बात नहीं कर रहे होते हैं , बल्कि हमारा मतलब होता है कि जिस पद पर वो बैठे हैं उसकी गरिमा कम हो गयी है . जिस कार्यालय में वो बैठते हैं , प्रधानमंत्री कार्यालय उसे सबसे ताकतवर माना जाता है , एक सशक्त   कार्यालय , लेकिन इस कार्यालय की शक्ति दिखाई नहीं देती


25. गुजरात में मुसलमानों के बीच साक्षरता (Literacy) किसी भी अन्य राज्य (State) की तुलना में अधिक है


26. हर एक नीति (Policy) के लिए उनके पास एक मिसाल (Example) है . मेरी दादी (Grandmother) ने ये किया, मेरे पिता ने वो किया और मेरे पर-दादा ने कुछ और किया . क्या ऐसे ही आप देश चलाते हैं?

मित्रों अपने बहुमूल्य विचार हमें नीचे Comment के माध्यम से दें! धन्यवाद्!

Share this:

Comments(8)

  1. July 1, 2013
  2. February 13, 2014
  3. November 28, 2014
  4. January 11, 2015
  5. June 16, 2016
  6. October 5, 2016
  7. February 20, 2017
  8. March 21, 2017

Leave a Reply to ARVIND KUMAR Cancel reply